बुधवार, 15 जून 2011

स्वदेशी संकल्प

हमारे दैनिक जीवन में शून्य तकनिकी से बनी बहुत सारी विदेशी वस्तुएं है,जिनको त्याग कर हम स्वदेशी को अपनाकर देश का व् हमारा लगभग प्रत्यक्ष रूप से  2,32,000 करोड़ तथा 7,50,000 करोड़ रूपये परोक्ष रूप से बचा सकते है |इतना पैसा ये कंपनियां लुट कर भारत से बाहर ले जा रही है  जिसके कारण हमारे देश कि अर्थव्यवस्था में पूंजी कि भारी कमी आई है |जिसके कारण देश के   प्रत्येक नागरिक पर लगभग 33,000 रूपये कर्ज हो गया  है ,जो सरकारे हम से टैक्स के रूप में  वसूल करती है |आओ हमसे जितना हो सके उतना स्वदेशी का पालन करके देश का व् अपना धन   बचायें |                                                                              यदि हम स्वदेशी का प्रयोग करेंगे तो हमारा पैसा देश में तो रहेगा ही ,साथ ही हमारे देश के नागरिको को रोगजार मिलेंगे व् हम आर्थिक रूप से समृद्ध होंगे |            

जरा सोचें आपका छोटा सा प्रयास करोडो लोगो को रोजगार मुहैया करा सकता है |तो आज ही संकल्प ले ................स्वदेशी अपनाएंगे ..देश को बचायेंगे

अधिक जानकारी के लिय बेब साईट भारत स्वाभिमान का अवलोकन करें    यहाँ पर स्वदेशी वस्तुओं व कंपनियो की सूची उपलब्ध है ||भारत स्वाभिमान

यहाँ भी पधारें...aawajapni.blogspot.com

1 टिप्पणी:

  1. अर्थ व्यवस्था के दोष को रेखांकित करती उत्प्रेरक पोस्ट .आभार .

    उत्तर देंहटाएं