गुरुवार, 23 जून 2011

नैन मिल ही गए बात हो जाने दो



जंग जीतेंगे हम आप जो संग हैं -लोकपाल बिल तो बनाना ही है -आइये आज आप का मन कुछ हल्का करें -लीक से हट
नैन मिल ही गए बात हो जाने दो



बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइये –जाइए जाइए
मूर्ति बन मै गया एक झलक के लिए
सर पे बांधे कफ़न एक नजर के लिए
नाग जैसे फंसा एक मणि के लिए
आग जैसे जला उर्वशी के लिए
राख बनने से पहले ही छा जाइये
आंसू छलके ख़ुशी के जो बरसाइये
जाइए जाइए ———
नैन मिल ही गए बात हो जाने दो
बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइए –जाइए जाइए
प्यार दिल में जो पनपा वो कब तक छिपे
लाख बादल ढंके चाँद क्या छिप सके ?
कैद बुल बुल जकड आह मत लीजिये
नैन मूंदे प्रिये आंसू मत पीजिये
फूटती जो कली कितना पर्दा करे
देख उसको जरा तो सकुचाइए
जाइए जाइए ———
नैन मिल ही गए बात हो जाने दो
बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइए –जाइए जाइए –
फूल अरमान दिल तेरे स्वागत बिछे ना कुचल जाइये
गूंथ माला प्रिये बिखरे मोती सभी आज चुन लीजिये
साँसे उखड़ी भले प्राण प्रिय में बसा ना दफ़न कीजिये
बाँहे उठ ही गयी मन मचलने लगा पग को बल दीजिये
सूख पथराये ना दिल की सुन लीजिये
सींच उसको सनम ना प्रलय ढाइए – न कुम्हलाइए
जाइए जाइए ———
नैन मिल ही गए बात हो जाने दो
बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइए –जाइए जाइए –
जंग जीतेगे हम आप जो संग हैं
द्वार खुल जायेंगे आज जो बंद हैं
काया है एक ही पांच ही तत्व हैं
रक्त ले हम खड़े देख लो एक है
होके मायूस ना हार पहनाइए
दिल को जीतेंगे हम आस मन में लिए
आज मुस्कुराइए –
जाइए जाइए ———
नैन मिल ही गए बात हो जाने दो
बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइए –जाइए जाइए –
सुरेन्द्र कुमार शुक्ल भ्रमर ५

5 टिप्‍पणियां:

  1. Your blog is great你的部落格真好!!
    If you like, come back and visit mine: http://alexchris111.pixnet.net/blog


    Thank you!!Wang Han Pin(王翰彬)
    From Taichung,Taiwan(台灣)

    उत्तर देंहटाएं
  2. Thanx but language of ur blog is different v shall not be able to ..

    उत्तर देंहटाएं
  3. नैन मिल ही गए बात हो जाने दो
    बेरहमी से यूं ना पर्दा गिराइए –जाइए जाइए –
    जंग जीतेगे हम आप जो संग हैं
    द्वार खुल जायेंगे आज जो बंद हैं
    sarahniy prastuti v abhivyakti.badhai surendra ji.

    उत्तर देंहटाएं
  4. शालिनी जी रचना की अभिव्यक्ति व् ये भ्रमर गीत आप के मन को छू सका हर्ष हुआ
    आभार आप का
    शुक्ल भ्रमर ५

    उत्तर देंहटाएं
  5. ये एक भ्रमर गीत है -इसमें एक प्रेमी का प्रेमिका से नैन मिल जाता है पर प्रेमिका ..शर्म लाज भय सामाजिक बंधन से बच कर पर्दा करने लगती है तो उसे हर बंधन तोड़ अपनी जीत का भरोसा दिलाया जाता है ..
    इसे कहीं न कहीं आज के परिप्रेक्ष्य में जोड़ा गया है जो आप समझ ही गए होने ..जंग जीतेंगे हम आप जो संग हैं ….

    उत्तर देंहटाएं